Horror Stories in Hindi | डर लगता हो तो मत पढ़ना

horror stories in hindi
  • 3
  •  
  •  
  •  

Horror Stories in Hindi बहुत डरावनी कहानी है

horror stories in hindi

Hindi Kahani : आज मैं आपके सामने हिन्दी कहानी के इस प्लेटफॉर्म पर जो कहानी शेयर करने जा रहा हूँ वो मेरे एक दोस्त रोहन के साथ घटित हुई है।

आगे बढ़ने से पहले मैं आपको बता दूँ कि ये कहानी बहुत डरावनी है आपको डरा भी सकती है, इसलिए पढ़ने से पहले एक बार जरूर सोचें।

तो चलिये शुरू करते हैं… Horror hindi story

अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी करने के बाद रोहन को एक कोम्पनी में एक computer operator की नौकरी मिल गयी, वैसे तो उस कोम्पनी में बहुत से लोग काम करते थे लेकिन रोहन की दोस्ती केवल एक ही बंदे से हुई जिसका नाम किशोर था।

धीरे-धीरे उन दोनों की दोस्ती इतनी गहरी होती चली गयी कि दोनों एक दूसरे के बिना कहीं आते जाते तक नहीं थे।

एक दिन किशोर ने रोहन को अपने घर आने के लिये कहा लेकिन रोहन के पिता की तबियत खराब थी इसलिये उसने मना कर दिया और कहा कि मैं किसी दूसरे दिन तेरे घर चलूँगा।

कुछ दिन बाद रोहन ने उस कंपनी को छोड़ दिया क्योँकि उसे एक अच्छी सी सरकारी नौकरी मिल गयी थी जिसकी salary भी पहले से ज्यादा थी।

रोहन के कंपनी छोड़ने के बाद काफी दिन हो गये थे (करीबन 2 साल) रोहन और किशोर कि एक दूसरे से बात तक नहीं हुई थी।

एक दिन रोहन अपने घर में बैठा हुआ था और उसे किशोर कि याद आने लगी और उसने उससे मिलने के लिये जाने की सोची। रोहन और किशोर पहले जहां काम करते थे रोहन वही पर गया किशोर से मिलने के लिये, लेकिन वहा उसे पता चला कि उसके नौकरी छोड़ने के कुछ दिन ही बाद किशोर ने भी नौकरी छोड़ दी थी और अपने गाँव चला गया था। किशोर के गाँव का नाम पिपरी था जो कि राजस्थान में है। Horror Stories in Hindi

उसी कंपनी में एक इंसान और भी काम करता था था जो कि किशोर का roommate था जिसका नाम रवि था। रोहन ने रवि से किशोर के घर का पता माँगा और पता मिलने के बाद रोहन शाम की बस पकड़कर किशोर से मिलने के लिये निकल पड़ा।

किशोर के गाँव में direct कोई बस नहीं जाती थी इसलिये बस वाले ने रोहन को एक सुनसान जगह पर उतार दिया जहाँ से किशोर का गाँव लगभग 10 किलोमीटर के आस पास था।

Hindi Kahani :  Short Stories in Hindi | 30+ Short Stories for Everyone

बस वाले ने जहां पर किशोर को उतारा था वहां आस-पास में कोई भी नहीं दिख रहा था दूर-दूर तक सन्नाटा था, रात के 1 बज रहे थे।

रोहन को डर तो लग रहा था लेकिन फिर भी हिम्मत करके वो गाँव की तरफ चलने लगा, इतने में उसे पीछे से किसी के चलने की आवाज आयी, उसकी हिम्मत तो नहीं हो रही थी पीछे मुड़कर देखने की लेकिन फिर भी उसने मुड़कर देखा तो उसे एक साधारण सा इंसान नजर आया और जिसको देखकर रोहन का डर थोड़ा कम हुआ।

चलते-चलते थोड़ी ही देर में वो पीछे वाला इंसान रोहन के पास में आ गया और उसके साथ चलने लगा, रोहन को फिर डर लगने लगा लेकिन जब उसने उसके चेहरे की तरफ देखा तो वो उसका दोस्त किशोर था। Horror Stories in Hindi

रोहन किशोर को देखकर बोला तू यहाँ क्या कर रहा है? तो किशोर ने कहा कि रवि ने मुझे फोन करके बता दिया था कि तू आने वाला है इसलिये मैं तेरे को लेने के लिये चला आया।

रोहन को बात कुछ ठीक नहीं लग रही थी और उसने किशोर से पूछा कि तुझे कैसे पता कि मैं रात की बस से आने वाला हूँ। किशोर उसकी बात को काटते हुए पूछा कि और बता क्या हाल चाल है तेरा और घर पर सब कैसे हैं? और हाल चाल के चक्कर में रोहन ये पूछना ही भूल गया कि किशोर वहां कैसे आ गया।

दोनों बातचीत करते-करते आगे बढ़ गये, रोहन को बहुत भूख लगी थी और उसने किशोर से पूछा कि भाई यहां से कोई आसान रास्ता नहीं है क्या जिससे हम गांव जल्दी पहुंच जाएँ।

किशोर ने कहा कि एक रास्ता है तो जो खेतों के बीच से होकर गुजरता है लेकिन वो बहुत डरावना और खतरनाक रास्ता है, वहा से जाना अच्छा नहीं है।

रोहन बोला कैसी बहकी-बहकी बातें कर रहा है, डर-वर कुछ नहीं होता ये सब केवल कहने की बातें होती हैं, और रोहन की जिद की वजह से दोनों उसी खेत के रास्ते से जाने लगे।

खेत के रास्ते से जाते समय रोहन को अंदर ही अंदर बहुत डर लग रहा था क्योँकि वो बार-बार किशोर कीं तरफ देख रहा था लेकिन उसे किशोर का चेहरा कुछ साफ तरीके से दिखायी नहीं दे रहा था। मतलब चेहरा तो दिख रहा था लेकिन अन्धेरा के कारण किशोर के चेहरे की तस्वीर रोहन के दिमाग में नहीं बन पा रही थी। Horror Stories in Hindi

Hindi Kahani :  Story in Hindi for Class 5 | Horror Moral Story

ये सब चल ही रहा था कि रोहन को पीछे से किसी तीसरे इंसान के चलने की आहट सुनायी देने लगी, इसके साथ-साथ किशोर ने बोलना भी बंद कर दिया, वो ऐसे चल रहा था कि जैसे कोई ज़िंदा लाश चल रही हो झूम-झूम कर।

फिर भी रोहन किसी तरह हिम्मत करके चलता रहा, थोड़ी दूर और गया तो उसे एक पीपल का पेड़ मिला जहाँ उसका दोस्त किशोर उसे छोड़कर कहीं गायब हो गया और उसकी नजर पीपल के पेड़ के एक डाल पर पड़ी जिसपर एक औरत अपने बाल बिखेरे बैठी हुई थी।

ये देखकर रोहन डर गया और उसके पलक झपकते ही वो औरत रोहन के सामने एकदम पास में आकर खड़ी हो गयी और अब उसके हाथ में एक बच्चा भी था जिसका सिर कटा हुआ था। ये नजारा देखकर रोहन बेहोश होकर वही गिर गया।

थोड़ी देर बाद जब उसको होश आया और उसकी आंखें खुली तो किशोर उसके सामने खड़ा था, रोहन डर के मारे हाँफ्ते-हांफ्ते किशोर को सारी बात बतायी और पूछा तू कहाँ चला गया था।

किशोर ने कहा मैं थोड़ा काम से चला गया था और वहा पेड़ पर कोई भी नहीं है वो केवल तेरा भय था। और दोनों आगे चलने लगे।

और अब रोहन को एकदम साफ-साफ सुनायी और दिखायी दे रहा था कि वो औरत उसके और किशोर के साथ-साथ चल रही थी लेकिन डर के मारे रोहन के मुँह से कुछ निकल नहीं पा रहा था, बस मन ही मन वो भगवान का नाम लेते हुए चलता जा रहा था और सोच रहा था कि आज तो मेरी मौत पक्की है आज मुझे और किशोर को बचाने वाला कोई भी नहीं है। इस तरह के हजारों खयाल आ रहे थे।

थोड़ा और आगे बढ़ा तो उसने देखा कि जो बच्चा उस औरत के पास था वो अब किशोर के कंधे पर बैठा हुआ है जिसका सिर पीछे की तरफ लटक रहा है, रोहन जोर से चिल्लाकर बोला – किशोर देख तेरे कंधे पर कौन बैठा है इतने में उसे दिखता है कि किशोर का तो कोई चेहरा ही नहीं है।

ये देखकर रोहन जोर से चिल्लाकर वहां से भागा और तबतक भागता रहा जब तक वो उस गाँव में नहीं पहुंच गया जहां किशोर रहता था।

Hindi Kahani :  Motivational Video for Hustlers and Entrepreneurs in Hindi

रोहन की ये हालत देखकर गाँव वालो ने पूछा – क्या हुआ बेटा तुम इतना घबराये हुए क्यों हो?

रोहन ने गाँव वालो को सारी-सारी बात हाँफ्ते-हांफ्ते बतायी।

तो गांव वालो ने रोहन को बताया कि किशोर कि शादी हो गयी थी और उसका एक छोटा सा बच्चा भी था, एक दिन बच्चे की तबियत खराब हो गयी तो किशोर और उसकी पत्नी अपने बच्चे को लेकर हस्पताल जा रहे थे उस खेत के रास्ते से और उनके ऊपर बिजली का एक खंभा गिर गया जिससे उसके बच्चे का सिर कटकर अलग हो गया और उन तीनों की मौत हो गयी।

आशा करता हूँ ये कहानी पढ़कर आपको अच्छा लगा होगा और अगर आप इसी तरह कि और भी कहानियाँ सुनना चाहते हो तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके हमें जरूर बताये। Horror Stories in Hindi

Top 10 Best Motivational Story

11 Short Motivational Stories in Hindi with Moral

Motivational Success Stories in Hindi | Nothing Impossible

Life Changing True Motivational Story with Message

Inspirational Life Story in Hindi Language for Entrepreneurs

Real Life Inspirational Stories in Hindi with Moral

Very Short Moral Stories for Children in Hindi | करोड़पति Story

Moral Stories in Hindi | क्या आप ऐसे सोच सकते हैं?

Hindi Short Stories with Moral Values for Kids

Moral Stories in Hindi for Class 7 | Short Story     

Moral Stories in Hindi for Class 8, 9 | Short Story

ये भी पढ़ें:

Short Motivational Story in Hindi | आपकी सोच बदल देंगी

Hindi Story for Class 1 with Moral | Moral Stories

Short Moral Story in Hindi for Class 10 | Moral Story

Short Stories with Moral Values in Hindi | प्रेरणादायक कहानियाँ

Story in Hindi for Class 5 | Horror Motivational Story

Moral Stories for Childrens in Hindi | करोड़पति की कहानी

Very Funny Hindi Stories with Moral | Moral Story

Moral Stories in Hindi for Class 9 | Short Story

अपनी तुलना दूसरो से न करे | Moral Story

Motivational Success Story in Hindi | कुछ भी Impossible नहीं है

Hindi Short Stories With Moral | प्रेरणादायक कहानियाँ

Sandeep Maheshwari Biography in Hindi

कहानी एक Millionaire की

तोता और शिकारी | हिंदी कहानी

अकबर बीरबल की कहानी । भगवान की खोज

Moral Stories in Hindi | क्या आप ऐसे सोच सकते हैं?

Motivational Stories in Hindi | आपकी जिंदगी बदलने के लिए काफी हैं

 

 

One thought on “Horror Stories in Hindi | डर लगता हो तो मत पढ़ना”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *