Short Moral Story in Hindi for Class 10 2020 | Moral Story

  • 3
  •  
  •  
  •  

Short Moral Story in Hindi for Class 10

At this Hindi Kahani Platform I am going to share some very short moral story in hindi so keep reading

Short Moral Story in Hindi for Class 10 – 1 नजर को बदलो नज़ारे बदल जायेगे

Moral stories in hindi for class 10

एक बार की बात है एक गाँव में एक गुरूजी रहते थे जिनके तीन शिष्य थे | एक दिन गुरूजी ने अपने तीनो शिष्यों को दाल कि एक-एक पोटली दी और कहा कि ये पोटली लेकर जाओ और मुझसे ठीक एक साल बाद आकर मिलना | तीनों शिष्य पोटली लेकर वहां से चले गए |

वो सब अपने अपने घर जाकर जब पोटली खोलकर देखे तो उसमे उन्हें चने के दाल मिले |

दाल देखकर पहले शिष्य ने सोचा कि क्योंकि ये दाल गुरूजी ने दिया है इसलिए ये पूज्यनीय है और वो उस दाल को एक जगह रखकर उसकी पूजा करने लगा |

दूसरे शिष्य ने पोटली में दाल देखकर सोचा कि जरूर गुरूजी ने हमें ये दाल बिदाई में दिए है और वो उस दाल को पकाकर खुद भी खाया और अपने घर वालो को भी खिलाया |

अब बारी आती है तीसरे शिष्य कि, पोटली में दाल देखकर उसने सोचा की गुरूजी ने ये दाल हमें दी है इसका मतलब जरूर इसमें कुछ रहस्य छुपा होगा | और उसने उस दाल को खेतों में बो दिया और एक साल बाद उसके पास इतना दाल हो गया की उससे वो भूखे-प्यासे लोगो का पेट भरने लगा |

एक साल बाद तीनो शिष्य गुरूजी के पास पहुंचे और गुरूजी को अपने अपने काम के बारे में बताने लगे, सबकी बात सुनने के बाद गुरूजी ने तीसरे शिष्य की खूब तारीफ़ की और बाकी दोनों शिष्य को उससे कुछ सीखने को कहा |

दोस्तों पेड़ से सेब गिरता है ये हम सबको एक समान ही दिखता है, लेकिन फर्क इस बात से पड़ता है की हम उसे कैसे देखते है | अगर Newton को भी हमारी तरह ही उस पेड़ से गिरता हुआ सेब दिखता तो आज हमें ग्रेविटी का पता नहीं चलता |

“सोच को बदलो सितारे बदल जायेगे, नजर को बदलो नज़ारे बदल जायेगे, कश्तिया बदलने की जरुरत नहीं, दिशा को बदलो किनारे बदल जाएंगे |”

Hindi Kahani for Class 10 – 2 प्यार का असली मतलब

Short Moral Story in Hindi for Class 10 : एक बार एक व्यक्ति अपनी नयी कार को बड़े प्यार से पोलिश करके चमका रहा था । तभी उसका ६ साल का बेटा पत्थर से कार पर कुछ लिख रहा था।

Hindi Kahani :  Moral Stories in Hindi for class 3 2020 | Most Inspiring Story

कार पर खरोच लगती देखकर पिता को बहुत गुस्सा आने लगा और उसने अपने बेटे का हाथ जोर से मरोड़ दिया।

उसने ने हाथ इतनी जोर से मरोड़ा की बच्चे की उंगलिया टूट गयी।

Success Stories in Hindi – 2 Zero to Billion Dollar Company Journey

Motivational Success Story in Hindi – 1 कैसे $1 की टी-शर्ट बेंची $2000 में?

बाद में जब लड़के को अस्पताल भर्ती में किया तो दर्द से पीड़ित होकर उसने पास में खड़े अपने पिता से पूछा कि पापा मेरी उंगलिया कब ठीक होंगी?

पिता को अपनी की गई इस गलती का पछतावा हो रहा था और वो बच्चे के सवाल का जवाब नहीं दे पाया।

पिता वापस जाता है और कार पर लातें बरसाकर अपना गुस्सा निकालने की कोशिश करता है तभी उसकी नजर उस खरोच पर पड़ती है, जिसकी वजह से उसने बेटे का हाथ तोड़ा था।

आप ये जानकर चकित रह जाओगे कि बेटे ने उसके पिता की कार पर पत्थर से खरोच कर – आई लव यू डेड लिखा था।

और ये पढ़कर उसके पिता को और भी ज्याद पछ्तावा होने लगा।

सीख:

Short Moral Story in Hindi for Class 10 : गुस्से और प्यार की सीमा नहीं होती । हमेशा याद रखें की चीजें इस्तेमाल करने के लिए होती है और इंसान प्यार करने के लिए । परंतु आज कल के ज़माने मै होता इससे उलटा है।

लोग चीजो से प्यार और लोगो का इस्तेमाल करते है ।

Motivational Stories in Hindi | आपकी जिंदगी बदलने के लिए काफी हैं

Real Life Inspirational Stories in Hindi | Zero To Millionaire

Kapti baaj ki kahani in Hindi for Class 10 – 3 एक कपटी बाज की कहानी

moral stories in hindi for class 10

Short Moral Story in Hindi for Class 10 : एक बाज एक पेड़ की डाली पर रहता था। उसी पेड़ की एक खोह में एक लोमड़ी भी रहती थी।

एक दिन जब लोमड़ी अपनी खोह से निकलकर बाहर शिकार के लिये जाती है तो बाज उसके खोह मे घुस जाता है और अपने बच्चों को खिलाने के लिए लोमड़ी के बच्चो को उठाकर ले आता है।

Hindi Kahani :  Short Moral Stories in Hindi for Class 1, 2 | Hindi Kahani

जब लोमड़ी लौटी, तो उसने बाज से अनुरोध किया कि वो उसके बच्चों को लौटा दे।

बाज को पता था कि लोमड़ी उसके घोंसले तक नहीं पहुँच पायेगी और उसने लोमड़ी के अनुरोध पर कोई ध्यान नहीं दिया।

कहानी एक Millionaire की

Top Motivational Books to Read in 2019

लोमड़ी पास के एक मंदिर मै गई और वहा से जलती हुई लकडी लेकर आई और उसने पेड़ के नीचे आग लगा दी । आग की गर्मी और धुएं से बाज डर गया।

और अपने बच्चो की जान बचाने के लिए वह जल्दी से लोमड़ी के पास गया और उसके बच्चों को लौटाकर उससे क्षमा माँगी।

सीख :

Short Moral Story in Hindi for Class 10 : किसी का बुरा करने से पहले सोच लें कि उसके साथ उससे भी बुरा होने वाला है।

एक कहावत है कि – “निर्दयी व्यक्ति जिनका दमन करता है, उससे ज्यादा उस व्यक्ति को उस कपटी बाज की तरह नुक्सान भुगतना पड़ता है।“

This Never Give Up Attitude can Change Your Life – 1 राक्षस और गाँव वाले

Hindi Story for Happiness – 2 हीरे की फसल

Bacche ki Story in Hindi – 4 मन की चुप्पी

Short Moral Story in Hindi for Class 10: एक बार एक किसान की घड़ी कहीं खो गई । चारों तरफ ढुढने और तमाम कोशिशों के बाद भी घडी नहीं मिली । उसने निश्चय किया कि वह इस काम में परिवार के बच्चों की मदद लेगा ।

उसने सब बच्चों को बुलाया और उसने कहा कि तुममे से  जो कोई भी मेरी खोई घडी खोज देगा उसे मैं पांच सौ रुपए दूंगा ।

बच्चों के द्वारा कई घंटो तक ढुढने पर भी घडी नहीं मिली और सभी निराश हो गये । उसी समय एक बच्चा उसके पास आया और बोला, ‘चाचा मुझे एक मौका और दीजिए पर इस बार मै ये काम अकेले ही करना चाहूँगा ।’ बच्चा एक-एक  करके घर के कमरों मै जाने लगा।

जब वह किसान के आराम कक्ष से निकला तो घडी उसके हाथ मैं थी । किसान सोने की घडी देखकर प्रशन्न  हो गया और अचरज मै बोला की ‘बेटा कहा थी यह घडी ?’ बच्चा बोला, मैंने तो कुछ नहीं किया बीएस मैं कमरे मै गया और चुपचाप बैठ गया और घडी की आवाज पर ध्यान केन्द्रित करने लगा । कमरे मैं शांति होने के कारण मुझे घडी की टिक-टिक सुनाई दे गई और घडी और मैंने घडी खोज निकली । जिस तरह कमरे की शांति घडी ढुढने मै मददगार साबित हुई, उसी प्रकार मन की शांति हमें जरुरी चीजें समजने मै मददगार होती है ।

Hindi Kahani :  Motivational Quotes in Hindi for Success in Life 2020 | आपके अंदर सफलता की आग लगा देंगी

सीख :

Short Moral Story in Hindi for Class 10: हर दिन हमें अपने लिए थोडा समय निकलना चाहिए और होसके तो ध्यान (Meditation) करना चाहिए, जो आगे जाके हमारे जीवन के लिए बहुत फायदेमंद है ।

Bhaalu ki Story in Hindi for Class 10 – 5 मुर्ख भालू

 बारिश के मौसम मैं एक गाँव के नजदीक गहरी नदी बहती थी । उसी नदी के ऊपर वृक्ष के तने का एक पुल बना हुआ था । वह पुल इतना तंग था कि उस पर से एक समय के लिए एक ही व्यक्ति गुजर सकता था ।

तो एक दिन एसा आया जब एक भालू पुल से गुजरने लगा और पुल की अगली तरफ से दूसरा भालू आने लगा ।

हुआ एसा की वो दोनों भालू पुल के एकदम बिच में डटकर आमने-सामने आकर खड़े रह गये ।

एक भालू गुस्से में आकर बोला – “तू पीछे चला जा, पहले मुझे गुजरने दे और उसके बाद तू पुल से निकल जाना” । उसके उत्तर में दुसरे भालू ने कहा कि – “बिलकुल नहीं, इतना आगे अ चूका हु अब मै पीछे नहीं जाऊंगा, तू पीछे चला जा और मुझे पुल को पार करने दे” ।

इस बात पर दोनों भालू की बहस छिड गई, कोई मानने को तैयार ही नहीं था । दोनों अपनी जिद या फिर मुर्खता केह लीजिये उस पर अड़े हुए थे ।

देखते ही देखते में दोनों भालुओं के वजन से पुल कमजोर पड़ने लगा । नतीजा ये निकला की पुल टूट गया और दोनों भालू पुल पर से गिर पड़े और डूब के मर गये ।

सीख:

 मुर्ख व्यक्ति हमेशा अपनी जिद के कारण अनजाने में खुद को ही हानी पोहंचाता और इन भालुओ की तरह अपने पैर पे खुद ही कुल्हाड़ी मर्देता है ।

ये भी पढ़ें:

Hindi Kahani : Motivational Stories in Hindi | आपकी जिंदगी बदलने के लिए काफी हैं

Hindi Kahani : Moral Stories in Hindi | क्या आप ऐसे सोच सकते हैं?

Hindi Kahani : तोता और शिकारी | हिंदी कहानी

 Hindi Kahani :अकबर बीरबल की कहानी । भगवान की खोज

 Hindi Kahani :कहानी एक millionaire की

Hindi Kahani : Sandeep Maheshwari Biography in Hindi

Hindi Kahani : Motivational success story in hindi for success

Hindi Kahani : Funny Hindi stories with moral

13 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *